शुगर और हृदय रोगियों के लिए फायदेमंद है अलसी का काढ़ा

अलसी के बीजों से बने काढ़े का नियमित रूप से सेवन कई बीमारियों के इलाज में फायदेमंद है।

Mewar News .स्वस्थ रहने के लिए आहार विशेषज्ञ डाइट में फल-सब्जियों के साथ-साथ अलग—अलग तरह बीजों को भी शामिल करने की सलाह देते हैं। ऐसे ही बीजों में से एक है अलसी, जिसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं। ये शरीर को स्वस्थ रखने में फायदेमंद हैं। अलसी के बीजों से बने काढ़े का नियमित रूप से सेवन कई बीमारियों के इलाज में फायदेमंद है। जानते हैं इसे कैसे तैयार करें और क्या हैं फायदे..

कैसे तैयार करें
दो चम्मच अलसी के बीजों को दो कप पानी में मिक्स करें और आधा रह जाने तक उबालें। तैयार काढ़ा छान लें और थोड़ा ठंडा होने के बाद उसका सेवन करें

अलसी के काढ़े के 8 फायदे

  • ब्लड शुगर करे नियंत्रित: डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए अलसी का काढ़ा वरदान साबित होता है। सुबह खाली पेट काढ़े के सेवन से डायबिटीज का स्तर नियंत्रित रहता है।
  • थाइरॉयड में असरदार:सुबह खाली पेट अलसी का एक कप काढ़ा हाइपोथाइरॉयड और हाइपरथाइरॉयड दोनों स्थितियों में फायदेमंद है।
  • हार्ट ब्लॉकेज करे दूर:नियमित रूप से तीन महीने तक अलसी का काढ़ा पीने से आर्टरीज में ब्लॉकेज दूर होता है और आपको एंजियोप्लास्टी कराने की जरूरत नहीं पड़ती। अलसी में मौजूद ओमेगा- 3 शरीर में बुरे कोलेस्ट्रॉल एलडीएल के स्तर को कम करता है और हृदय संबंधी बीमारियों को रोकने में मदद करता है। हानिकारक विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर शरीर को डीटॉक्सीफाई करता है।
  • जोड़ों के दर्द में दे आराम: साइटिका, नस का दबना, घुटनों या अन्य किन्हीं जोड़ों के दर्द में अलसी के काढ़े का नियमित सेवन फायदेमंद साबित होता है।
  • मोटापा करे कम:काढ़ा शरीर में जमा हुई अतिरिक्त वसा को निकालने में मदद करता है। अलसी में मौजूद फाइबर भूख को कम करता है और शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है।
  • पेट की समस्याओं में कारगर: नियमित रूप से अलसी का काढ़ा पीने से कब्ज, पेट दर्द, पेट फूलना जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिल जाता है।
  • बालों के लिए फायदेमंद:आधा चम्मच अलसी के बीज रोज सुबह गर्म पानी के साथ लेने से बालों के झड़ने की समस्या हल होती है। बाल सफेद होना रुक जाता है।
  • त्वचा के लिए उपयोगी:इससे त्वचा के रूखेपन, कील- मुंहासे, एग्जिमा, एलर्जी जैसी समस्याओं में राहत मिलती है। त्वचा मुलायम महसूस होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *