श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि मना तृणमूल अपना ‘पाप’ धो रही है : भाजपा

भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा तोड़ने के लिए नक्सलियों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया.

कोलकाता: भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि मनाने के पश्चिम बंगाल सरकार के निर्णय की शनिवार को सराहना की, लेकिन इसके साथ ही सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर मार्च में उनकी प्रतिमा तोड़ने के लिए नक्सलियों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया. पश्चिम बंगाल के मंत्री फरहाद हाकिम और सोवनदेब चट्टोपाध्याय शनिवार को मुखर्जी की 65वीं पुण्यतिथि के अवसर पर दक्षिण कोलकाता के केओरताला शवदाहगृह में उनकी प्रतिमा के समक्ष एक सरकारी कार्यक्रम में शामिल हुए और दावा किया कि ‘भारत और बंगाल के महान सपूत’ को श्रद्धांजलि अर्पित करने में कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए. इस पर, प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा के सचिव राहुल सिन्हा ने कहा, “तृणमूल ने मुखर्जी की प्रतिमा ढहाने के लिए नक्सलियों का इस्तेमाल किया और वे अब अपने पाप को धोने की कोशिश कर रहे हैं. मुझे लगता है कि तृणमूल को समझने में समय लगेगा कि मुखर्जी की वजह से ही बंगाल अभी भी भारत का अंग है.”

बंगाल सरकार के निर्णय की सराहना करते हुए, भाजपा के राज्य अध्यक्ष दिलीप घोष ने हालांकि कहा, “यह काफी देरी से हुआ है.” उन्होंने कहा, “मैंने श्यामा प्रसाद की पुण्यतिथि मनाने के राज्य सरकार के निर्णय के बारे में सुना. यह महान विचार और अच्छा कार्य है, लेकिन यह काफी देरी से हुआ है। हालांकि, इसकी प्रशंसा की जानी चाहिए और मैं सरकार के निर्णय की प्रशंसा करता हूं।” राज्य मंत्री हाकिम ने कहा, “जब भाजपा यहां कहीं नहीं थी, हमने मुखर्जी की प्रतिमा पर हार चढ़ाया था. हमारी पार्टी ने वर्षो से उनका सम्मान किया है और हम भारत के महान सपूतों को हमेशा सम्मान देते हैं।” यह पूछे जाने पर कि क्या इस निर्णय के पीछे कोई राजनीतिक मंशा है? चट्टोपाध्याय ने कहा, “मुखर्जी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के पीछे कोई राजनीति नहीं है। वह बंगाल के महान सपूत थे. उन्हें सम्मान देना हमारा कर्तव्य है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *