हर दिन आजमाएं ये 5 स्टेप, जिंदगी भर रहेंगे फिट

अगर आपको जिम में जाने का समय नहीं मिल पाता है तो इसका यह मतलब नहीं कि आप व्यायाम ही छोड़ दे. आप सुबह जागने के बाद तंदरुस्त रहने के लिए घर पर ही कुछ व्यायाम अपना सकते हैं.

नई दिल्ली: अगर आपको जिम में जाने का समय नहीं मिल पाता है तो इसका यह मतलब नहीं कि आप व्यायाम ही छोड़ दे. आप सुबह जागने के बाद तंदरुस्त रहने के लिए घर पर ही कुछ व्यायाम अपना सकते हैं. स्कल्पटासी की संस्थापक व फिटनेस विशेषज्ञ शिवानी पटेल कहती हैं कि आपको कसरत करने के लिए उपकरणों की आवश्यकता नहीं है और यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं, जो आपके घर पर आराम से व्यायाम करने में आपकी मदद करेंगे.

हमेशा याद रखें, पहले वार्मअप करें : व्यायाम से पहले मांसपेशियों में गर्माहट लाना महत्वपूर्ण है, ऐसा नहीं करने से आपकी मांसपेशियों में चोट आ सकती है. आप इसे अपने घर के काम करके वार्मअप कर सकते हैं.

पानी की बाल्टी : यह आपकी भुजाओं की कसरत के लिए सही है.  एक बाल्टी को दो से तीन-बार उठाने पर यह आपके बाइसेप बनाने में मदद करेगा.
सीढ़िया : सीढ़ियों पर ऊपर-नीचे चलना काफी बेहतर व्यायाम है.

मोटिवेशनल डायरीज के संस्थापक व ट्रांसफार्मेशनल कोच आशीष जनियानी भी घर पर व्यायाम के लिए कुछ सुझाव देते हैं-

आप 15 मिनट के व्यायाम के बारे में नहीं सोचें : पहले 15 मिनट के लिए खुद को तैयार करें.  इसके लिए अपने को व्यायाम में लगाए.  आपके शरीर में व्यायाम के बाद स्वत: डोपामाइन व एंडोफ्रिन रिलीज होंगे.

बांटकर जीतना सीखें : कसरत करने के दौरान आप अपने व्यायाम में थोड़ा अवकाश भी दें.

शुरू करें व्यायाम : कसरत करने के लिए प्रेरित होने की जरूरत नहीं है, आप इसे शुरू करें यह नहीं सोचें कि सोमवार से करेंगे या अगले सप्ताह से करेंगे, जाएं व पसीना बहाएं.

लंबे समय तक हेल्दी जीवन जीना है तो करिए छोटा सा बदलाव

अगर आप भी हेल्दी और फिट रहना चाहती हैं तो रोजाना की लाइफ में नीचे दिए गए टिप्स अपना सकते हैं.

रिटायर न हों : उम्र का कोई भी पड़ाव हो अपने हाथ-पैर चलाना बंद ना करें. मतलब आप अपना सामान खुद रखिए और अपना काम खुद करिए. बिल्डिंग में चाहे लिफ्ट लगी हुई एक बार ऊपर जाने के लिए सीढ़ियों का इस्तेमाल करिए. सीढ़ियों का इस्तेमाल करने से शरीर का रक्त संचार बेहतर होता है, जो लोग एक्सरसाइज करने में असमर्थ होते हैं उनके लिए सीढ़ियां चढ़ना और उतरना बेस्ट मेडिसिन है.

वजन पर रखिए कंट्रोल : हमें ऐसा भोजन करना चाहिए, जिससे वजन जरूरत से ज्यादा ना बढ़ें. जहां तक संभव हो भोजन में हरी सब्जियां और फलों को शामिल करिए. अगर आप नॉन वेज खाना पसंद करते हैं तो सप्ताह में सिर्फ दो बार ही इसका सेवन करिए. अंडो और दूध को खाने में शामिल करिए, ताकि शरीर को प्रचूर मात्रा में प्रोटीन मिल सके. ऐसा करने से आपके शरीर का वजन नियंत्रित रहेगा.

मन से करिए मस्ती : जरूरी नहीं है कि आप ऑफिस या घर में हमेशा ही गंभीर अवस्था में ही रहें. दोस्तों, ऑफिस के साथियों के साथ थोड़ा सा मजाक भी करना जरूरी है. हंसी मजाक करना बेहद जरूरी है, क्योंकि ऐसा करने से आपका ध्यान गंभीर चीजों से हटता है जो आपको निरोग रहने में मदद मिलती है. वैसे भी बहुत ज्यादा नियमों में भी बंधकर जीवन जीने से ना सिर्फ मुश्किलें बढ़ती है बल्कि थकावट होती है.

अनुभव बांटना भी है जरूरी : अक्सर लोग अपना एक्सपीरियंस बांटने से कतराते हैं, अगर आप भी ऐसा करते हैं तो इसे इग्नोर करिए. आपके पास कोई अनुभव हो चाहे अच्छा या बुरा लेकिन उसे दूसरों के साथ बांटने से आपको ही अच्छा लगेगा. वैसे भी मन की बात किसी से कहने से मन हल्का ही होता है, इतना ही नहीं आपके अनुभव आप तो कुछ नया सीखते ही है साथ ही दूसरे भी उससे कुछ सीखते हैं जिसे वो हमेशा याद रखते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *